रक्षाबंधन 2022 | रक्षाबंधन की थाली कैसे सजाएं, क्या है जरारी समग्री – रक्षा बंधन 2022 पूजा थाली: रक्षाबंधन की पूजा-थाली में शामिल हों ये, टेस्ट, गुणवत्ता पटल है

0
1


रक्षा बंधन 2022 पूजा थाली: रक्षा बंधन की पूजा-थाली में शामिल हों ये, प्‍लेट और पटल है

रक्षाबंधन पूजा : राखी की पटल में चंदन, अक्षत, कोनी, दीपक और मिठाइयाँ।

विशेष बातें

  • रक्षा बेट के दिन भद्रा काल की घटना- रात 08 बजकर 51 पर।
  • भाई की आरती के लिए दीपक।
  • अक्षत से भाई के जीवन से ऋणात्मक पासा.

रक्षाबंधन 2022: भाऊ-बहन का त्योहार रक्षाबंधन इस साल 11 अगस्त को खेलना जारी रखें। अपनी बार की इस बार भी अपनी भाई की बदला लेने वाली बहन को अपनी सुरक्षा और हर स्थिति में अपनी हर का बदला लेंगी। साथ ही अपने भाई की उम्र और-वृद्धि की सुखी भी। सुरक्षा को बहाल करना शुरू कर रहे हैं। बजर में भी महत्वपूर्ण सुरक्षा सूत्र भरमार है। आपको kayta दें कि r कि raughaphak में rasa की kasan kanata k k महत ktaun महत ktan महत कुछ सामग्री आरती की पटल (रक्षाबंधन आरती थाली) में होना चाहिए। भाई के बीच में और अगाध में है। माँ लक्ष्मी की कृपा बनी रहती है।

यह भी आगे

रक्षाबंधन की तारीख और समय : इस बार की रक्षा के लिए दिनांक 11 या 12 की तारीख तय की गई है।

राखी की पटल में क्या महत्व है

सबसे पहले तोरी… चंदन टिका के लिए। परिवर्तन, ऐक्सिट भी प्रभावित होता है। कोनी हिन्दू धर्म में विशेष महत्व है। भाई के जीवन में सुख-समृद्धि बनी रहती है। भाई की आरती के लिए दीपक। इन हरकतों से परेशान होना। जो भाई के सपने में सपनों का रोमांच होता है।

कश्मीरी…

पंचांग के सुवन माह के शुक्ल की तारीख दिनांक 11 अगस्त को सुबह 10 बजकर 38 पर शुरू होती है। इस अपडेट के बाद दिनांक 11 को अपडेट होने के बाद भी अपडेट किया जाएगा। पूरा दिनांक 11 पूरा करें।

रक्षा बेट 2022 शुभ मुहूर्त | रक्षा बंधन 2022 तारीख

रक्षा बंधन तिथि- 11 अगस्त 2022, गुरुवार

पूर्णिमा की तारीख- 11 अगस्त, सुबह 10 बजकर 38 से

पूर्णिमा तिथि की तारीख- 12 अगस्त. सुबह 7 बजकर 5 पर

शुभ मुहू- 11 अगस्त को सुबह 9 बजकर 28 से रात 9 बजकर 14

अभिजीत मुहूर्त- सुबह 12 बजकर 6 से 12 बजकर 57 तक

अमृत ​​काल- शाम 6 बजकर 55 से शाम 8 बजकर 20 तक

ब्रह्म मुहू – सुबह 04 बजकरकर्म 29 . से 5 बजकर 17 मिनट तक

रक्षा बेट 2022 भद्रा काल | रक्षा बंधन 2022 भाद्र काली

रक्षा बेट के दिन भद्रा काल की घटना- रात 08 बजकर 51 पर

रक्षा के लिए दिन भद्रा- 11 अगस्त को शाम 05 बजकर 17 मिनट से 06 बजकर 18 तक

रक्षा बेट भद्रा मुख – शाम 06 बजकर 18 से रात 8 बजे तक

(अस्वीकरण: यहां

सन टैनिंग को घर के अंदर से भगाएं दूर



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here